नौकरी लगवाने के नाम पर ठग लिए 2 लाख पुलिस अधीक्षक से शिकायत,जानें क्या है मामला........ - eaglenews24x7

Breaking


नौकरी लगवाने के नाम पर ठग लिए 2 लाख पुलिस अधीक्षक से शिकायत,जानें क्या है मामला........

नौकरी लगवाने के नाम पर ठग लिए 2 लाख पुलिस अधीक्षक से शिकायत।

जबलपुर :-एक व्यक्ति द्वारा सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी किए जाने का मामला पुलिस के संज्ञान में आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना गोरा बाजार क्षेत्र के निवासी एक व्यक्ति को नौकरी लगवाने का झांसा देकर उससे साड़े 4 लाख रुपए की मांग की गई। जिसमें से दो लाख का भुगतान आरोपी को किया गया। फिर भी काम ना मिलने पर मामला पुलिस अधीक्षक पहुंच गया।


थाना गोरा बाजार अंतर्गत तिलहरी शासकीय स्कूल के पास रहने वाले मनोज पासी ने पुलिस अधीक्षक के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है। उसका कहना है कि बृजेश तिवारी नामक व्यक्ति मेरे पास आया और खुद को मेरे घर के पास स्थित स्कूल का प्राचार्य बताया। उसने दावा किया कि मेरी रेल विभाग में ऊपर तक पहुंच है।उसने पड़ोस में रहने वाले धनीराम का हवाला भी दिया।जब पूरी तरह विश्वास जम गया तो उसने 4 लाख 50 हजार रुपयों की मांग की।


शिकायतकर्ता का कहना है कि मैंने जैसे तैसे जेवर बेचकर, कर्ज पर पैसा लेकर दो लाख रुपया बृजेश तिवारी को दिया,कुछ पैसे उस धनीराम को भी दिए,बृजेश ने जिस का हवाला दिया था।बाकी के 2:50 लाख रुपए नौकरी लगने के बाद देना तय हुआ लेकिन पैसा लेने के बाद बृजेश तिवारी ने घर आना और बात करना बंद कर दिया।


मैंने जब जब उसे रास्ते में रोककर पूछा कि नौकरी कब लगाओगे तब-तब उसने यही कहा कि जॉइनिंग लेटर आने वाला है जल्दी ही नौकरी लग जाएगी।जब कई दिनों तक काम नहीं बना तो मुझे उसकी नियत पर शक हुआ पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो बृजेश तिवारी ने शिकायतकर्ता को जान से मारने की धमकी दे डाली। 


अंततःशिकायतकर्ता मनोज पासी ने पुलिस अधीक्षक के नाम एक शिकायत पत्र प्रस्तुत किया। उस के माध्यम से मांग की गई है कि बृजेश तिवारी को जल्दी से जल्दी गिरफ्तार कर उससे मेरे दो लाख रुपए वापस दिलाए जाएं। उसने बृजेश तिवारी से खुद की जान का खतरा भी बताया है।शिकायत में स्पष्ट किया गया है कि यदि मेरे अथवा मेरे परिवार के साथ कोई अनहोनी घटती है तो इसके लिए बृजेश तिवारी ही जिम्मेदार होगा।