सरकारी ठेके लेने वाली कंपनी "मैक्स' पर स्टेट जीएसटी का शिकंजा, साढ़े 6 करोड़ वसूले - eaglenews24x7

Breaking

सरकारी ठेके लेने वाली कंपनी "मैक्स' पर स्टेट जीएसटी का शिकंजा, साढ़े 6 करोड़ वसूले


जबलपुर, रेलवे, एमपीईबी समेत कई सरकारी विभागों में उपकरण सप्लाई के साथ कंस्ट्रक्शन से जुड़े ठेके लेने वाली मैक्स इंफ्रा (आई) प्राइवेट लिमिटेड कंपनी पर स्टेट जीएसटी ने शिकंजा कसा है। मंगलवार देर रात एंटी इवेजन ब्यूरो टीम ने छिंदवाड़ा के सौंसर स्थित कंपनी के मुख्य कार्यस्थल और रायसेन जिले के ओबेदुल्लागंज स्थित ऑफिस में छापे मारे।

मंगलवार की देर रात से शुरू हुई जाँच बुधवार की दोपहर तक जारी रही, जिसमें जब्त दस्तावेजों के शुरूआती परीक्षण में ही करोड़ों की टैक्स चोरी उजागर हुई जिसके आधार पर स्टेट जीएसटी ने कंपनी से 6 करोड़ 54 लाख 25 हजार 327 रुपए की रिकवरी की। फिलहाल दोनों जगहों पर कार्रवाई जारी है, जाँच पूरी होने के बाद रिकवरी का आँकड़ा 10 करोड़ तक पहुँचने का अनुमान है।

स्टेट जीएसटी की एंटी इवेजन ब्यूरो के संयुक्त आयुक्त सुनील कुमार मिश्रा ने बताया कि हैदराबाद के बड़े कॉन्ट्रेक्टर फणि कुमार रेड्डी मालिडी की मैक्स इंफ्रा रेलवे (आई) प्राइवेट लिमिटेड कंपनी प्रदेश में एमपीईबी व अन्य सरकारी विभागों में विद्युत उपकरण के साथ अन्य कंस्ट्रक्शन्स से जुड़े ठेके लेती है। कंपनी द्वारा कई महीनों से सर्विस टैक्स समय पर नहीं चुकाया जा रहा था। लिहाजा कंपनी के छिंदवाड़ा सौंसर स्थित मुख्यालय और ओबेदुल्लागंज स्थित दफ्तर में छापेमारी करके दस्तावेज जब्त किए गए। जिनकी जाँच में स्टेट टैक्स के 3 करोड़ 27 लाख 12 हजार 868 रुपए और सेन्ट्रल टैक्स के 3 करोड़ 27 लाख 12 हजार 868 रुपए बकाया होना पाया गया।

लिहाजा कंपनी से 6 करोड़, 54 लाख, 25 हजार, 327 रुपए वसूले गए। श्री मिश्रा के मुताबिक फर्म द्वारा प्रस्तुत लेखा पुस्तकों से मिलान उपरांत अंतिम निष्कर्ष पर पहुँचा जा सकेगा। इस कार्रवाई में आरके ठाकुर, एसपीएस बघेल, एसएम बागरी, अतुल सिंह भदौरिया, प्रतिमा सोनकेसरिया, सत्यम चौबे, संदीप घनघोरिया, रहांगडाले, राजाराम अहिरवार के अलावा छिंदवाड़ा के संयुक्त आयुक्त पीके पांडे, भोपाल एंटी इवेजन ब्यूरो के सदस्य शामिल रहे।