श्रृद्धालु अब सदर की काली माई और सिटी बंगाली क्लब की दुर्गा प्रतिमा का कर सकेंगे ई-दर्शन - eagle news

Breaking

श्रृद्धालु अब सदर की काली माई और सिटी बंगाली क्लब की दुर्गा प्रतिमा का कर सकेंगे ई-दर्शन


जबलपुर, नवरात्रि में भीड़ इकट्ठा न हो इसके लिये शहर के प्रमुख और प्राचीन देवी मंदिरों के ऑनलाईन दर्शन कराने की श्रद्धालुओं को प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई सुविधा से सदर स्थित काली मंदिर को भी जल्दी ही जोड़ा जायेगा । इसके साथ ही करमचन्द चौक स्थित सिटी बंगाली क्लब में स्थापित की जा रही माँ दुर्गा की प्रतिमा के दर्शन भी संस्कारधानी सहित देश विदेश में बसे भक्त कर सकेंगे ।

कोरोना के संक्रमण से श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिये कलेक्टर कर्मवीर शर्मा की पहल पर आदिशक्ति माँ दुर्गा की आराधना के नौ दिवसीय पर्व पर शुरू की गई ऑनलाईन दर्शन की इस व्यवस्था से तेवर स्थित माँ त्रिपुर सुंदरी के मंदिर, हनुमानताल स्थित बूढ़ी खेरमाई और बड़ी खेरमाई मन्दिर, राईट टॉउन में मानस भवन के समीप स्थित छोटी खेरमाई मन्दिर को पहले ही जोड़ा जा चुका था । देवी भक्त और श्रद्धालु इन मंदिरों का न केवल घर से दर्शन कर सकेंगे बल्कि घर से ही इन मंदिरों में होने वाली आरती में भी शामिल हो सकेंगे । मंदिरों के लाइव दर्शन के लिये लोगों को जबलपुर की आधिकारिक बेबसाईट jabalpur.nic.in के मुख्य पेज में प्रदर्शित हो रहे ऑनलाईन दर्शन के विकल्प पर क्लिक करना होगा और मन्दिर का चयन करना होगा। देवी मंदिरों के ऑनलाइन दर्शन की इस लिंक पर एक विशेष फीचर भी जोड़ा गया है, इसमें मंदिरों के बैंक खाता नम्बर और बैंक का आईएफएससी कोड नम्बर भी प्रदर्शित किया जा रहा है । ताकि श्रद्धालु मंदिरों को ऑनलाइन राशि ट्रांसफर कर डोनेशन दे सकेंगे ।

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने बताया कि मन्दिर प्रबन्धन और एनआईसी के तकनीकी सहयोग से शुरू की गई व्यवस्था का मुख्य उद्देश्य कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकना तथा इससे लोगों के स्वास्थ की सुरक्षा करना है । श्री शर्मा ने ऑनलाइन दर्शन की प्रारम्भ की इस व्यवस्था से मन्दिरों में भीड़ एकत्र नहीं होगी । श्रद्धालु घर बैठे ही माँ दुर्गा के दर्शन कर सकेंगे और आरती में भी शामिल हो सकेंगे । जिला सूचना विज्ञान अधिकारी आशीष शुक्ला के मुताबिक ऑनलाइन दर्शन की इस व्यवस्था का लाभ देश के किसी भी प्रांत और विदेश में रह रहे भक्त भी उठा सकेंगे और jabalpur.nic.in पर ऑनलाईन दर्शन की लिंक पर क्लिक कर मंदिरों के लाईव दर्शन कर सकेंगे और आरती में भी सीधे शामिल हो सकेंगे । श्री शुक्ला ने बताया कि मंदिरों के ऑनलाइन दर्शन की यह सुविधा सीसीटीव्ही कैमरों के माध्यम से की जा रही है । जिला सूचना विज्ञान अधिकारी के मुताबिक सदर स्थित कालीमंदिर को भी ऑनलाइन दर्शन की इस व्यवस्था से शीघ्र जोड़ दिया जायेगा ।