बलरामपुर गैंगरेप पीड़िता का भी देर रात हुआ अंतिम संस्कार, दरिंदगी के दो आरोपी गिरफ्तार - eagle news

Breaking

बलरामपुर गैंगरेप पीड़िता का भी देर रात हुआ अंतिम संस्कार, दरिंदगी के दो आरोपी गिरफ्तार


बलरामपुर, उत्तर प्रदेश में बलरामपुर गैंगरेप पीड़िता का भी देर रात भारी सुरक्षाबलों की तैनाती के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया. पोस्टमॉर्टम के बाद भारी पुलिस फोर्स की सुरक्षा के बीच गैंसडी में पीड़िता का अंतिम संस्कार कर दिया गया. कॉलेज में एडमिशन फीस जमा करने के बाद लौट रही छात्रा के साथ मंगलवार को गैंगरेप की घटना हुई थी. परिजनों का आरोप है कि छात्रा को अगवा करने के बाद गैंगरेप किया गया. पुलिस ने इस मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया है. 

पुलिस ने बुधवार को बताया कि बलरामपुर के थाना गैथली में उन्हें एक तहरीर मिली है. तहरीर के मुताबिक 22 साल की लड़की के परिजनों ने बताया कि वह एक प्राइवेट फर्म में काम करती थी. लड़की जब बुधवार को काम करने गई तो देर शाम तक घर नहीं लौटी तो परिजनों को चिंता हुई. उन्होंने फोन से संपर्क करने की कोशिश की. लेकिन लड़की से संपर्क नहीं हो पाया. लेकिन लड़की थोड़ी देर बाद रिक्शे से आई. लड़की हालत खराब थी. 

तहरीर के हवाले से पुलिस ने बताया कि लड़की के हाथ में ग्लूकोज चढ़ाने वाला वीगो लगा हुआ था. लड़की की हालत खाफी खराब लग रही थी. परिजन तुरंत लड़की को अस्पताल लेकर गए. लेकिन लड़की की रास्ते में ही मौत हो गई. परिजनों ने अपनी तहरीर में दो लड़कों पर आरोप लगाए हैं और कहा है कि इन लड़कों ने हमारी लड़की का इलाज कराया. इन लोगों ने लड़की के साथ बलात्कार किया है. जब लड़की की हालत खराब हुई तो उन लोगों ने उसे घर भेज दिया. 
पुलिस ने बताया कि तहरीर पर तुरंत एक्शन लेते हुए दोनों नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस आगे की छानबीन करेगी और जो दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी. बलरामपुर पुलिस ने यह भी कहा है कि इस मामले में पीड़िता का हाथ पैर और कमर तोड़ने वाली बात सही नहीं है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं हुई है.

बता दें कि हाथरस में गैंगरेप पीड़िता की मौत और फिर जबरन उसका अंतिम संस्कार किए जाने के बाद यूपी पुलिस सवालों के घेरे में है. इस बीच बलरामपुर में सामने आई गैंगरेप की घटना से फिर पुलिस निशाने पर आ गई है.