विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख ने किया चीन का बचाव, चीन से नहीं आया कोरोना संक्रमण - eagle news

Breaking

विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख ने किया चीन का बचाव, चीन से नहीं आया कोरोना संक्रमण


वॉशिंगटन । करीब 9 महीने पहले चीन के वुहान से कोरोना फैलना शुरू हुआ था।इसके बाद से अब तक दुनियाभर में करीब 10 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।इस दौरान भारत के पत्रकार ने विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख टेड्रोस ऐडनम से सवाल किया कि क्या कोरोना चीन से आया है,तब उन्होंने एक बार फिर चीन का बचाव किया।विश्व स्वास्थ्य संगठन चीफ ने एक कार्यक्रम में मीडिया से बात कर रहे थे। इस दौरान भारत के पत्रकार ने उन दावों के बारे में सवाल किया कि कोरोना चीन के वुहान की वायरॉलजी लैब में पैदा हुआ है। इस पर उन्होंने कहा, विश्व स्वास्थ्य संगठन विज्ञान और सबूतों में विश्वास करता है। मीडिया इंटरव्यू में किसी ने कहा कि वायरस लैब से आया है लेकिन जहां तक हमारी बात है, जितने प्रकाशन देख हैं उनमें कहा गया है कि वायरस प्राकृतिक रूप से आया है।' ऐडनम ने कहा, 'अगर कोई चीज इस बदलने वाली है तो वह साइंटिफिक प्रक्रिया के जरिए आएगी। जो भी मीडिया में आकर कुछ कहता है, हम कुछ नहीं कह सकते। बता दें कि चीन से जान बचाकर भागीं वैज्ञानिक ली-वेंग यान ने दावा किया है कि वायरस चीन की लैब में ही पैदा हुआ और वहीं से फैला।डॉ.यान ने कहा था, पहली बात तो यह है कि वुहान के मीट मार्केट को पर्दे के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है और वायरस प्राकृतिक नहीं है।' जब उनसे पूछा गया कि वायरस कहां से आया तो उन्होंने कहा कि वुहान के लैब से। उन्होंने कहा, जीनोम सीक्वेंस इंसानी फिंगर प्रिंट जैसा है। इस आधार पर इसकी पहचान की जा सकती है।' यान ने कहा था कि वह सबूतों के आधार पर बता सकती हैं कि कैसे यह चीन की लैब से आया है।