बच्चों का अनाज डेयरी तक पहुंचाने वालों पर गिरी गाज कैसे ?जानने के लिये पढ़े पूरी खबर... - eaglenews24x7

Breaking


बच्चों का अनाज डेयरी तक पहुंचाने वालों पर गिरी गाज कैसे ?जानने के लिये पढ़े पूरी खबर...

बच्चों का अनाज डेयरी तक पहुंचाने वालों पर गिरी गाज.

जबलपुर :- क्राइम ब्रांच और अधारताल पुलिस द्वारा 8 जुलाई को खैरी स्थित सिडाना दूध डेयरी में बच्चों का दलिया जब्त किए जाने के मामले में कलेक्टर ने बड़ी कार्रवाई की है आंगनबाड़ी में बच्चों को वितरित किए जाने वाला पोषण आहार डेयरी में मिलने के प्रकरण की जांच कराई रिपोर्ट के आधार पर महिला एवं बाल विकास विभाग के दो परियोजना अधिकारियों,चार सुपरवाइजर और 10 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दोषी मिलने पर बर्खास्तगी का नोटिस जारी किया है।


कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने एसडीएम आधारताल नम:शिवाय अरजरिया के अगुवाई में एक जांच कमेटी गठित की थी।जांच कमेटी ने जांच में पाया कि आंगनबाड़ी के बच्चों को वितरित किया जाने वाला पोषण आहार आंगनबाड़ियों की बजाय मिली भगत से ग्राम खैरी स्थित सिडाना डेयरी में पहुंचाया जा रहा था।


डेयरी से जब्त पोषण आहार की स्टॉक रजिस्टर में एंट्री ही नहीं दिखाई गई थी। इसी तरह पोषण आहार की वितरण पंजी में हितग्राहियों के हस्ताक्षर भी नहीं मिले। जांच में सामने आया कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने पोषण आहार भी अधिक मात्रा में प्राप्त किया था और उसका आंगनबाड़ी केंद्रों में वितरण न कर लाभ के लिए 300 रुपए प्रति बोरी की दर से बेच रहे थे।


बच्चों का दलिया जानवर को खिला रहे थे जबलपुर की क्राइम ब्रांच ने आंगनबाड़ी से सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी का किया भंडाफोड़.....


कमेटी के प्रतिवेदन पर कलेक्टर ने परियोजना अधिकारी शहरी क्रमांक -4 रीतेश दुबे और परियोजना अधिकारी शहरी क्रमांक -6 श्रद्धा चौकसे के खिलाफ संभाग आयुक्त को अनुशासनात्मक कार्यवाही की अनुशंसा की है।वहीं पर्यवेक्षक रत्नावली शर्मा,श्वेता तिवारी, वर्षा साहू और सविता अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।


जबकि 10 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रंजना श्रीवास्तव,किस्बा अंजुम,पिंकी कश्यप, शिवांसी ठाकुर,सुरेखा राठौर,प्रेमलता, श्रद्धा कोरी,रीती सिंह,माया गौतम और श्रद्धा सोनकर को बर्खास्तगी का कारण बताओ नोटिस जारी किया है।मामले में दोषी पाए गए पार्वती स्व-सहायता समूह और गौरी स्व-सहायता समूह को ब्लैकलिस्ट करते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं।


एसडीएम अधारताल नम: शिवाय अरजरिया के अलावा जांच कमेटी में तहसीलदार आधारताल राजेश सिंह, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास मनीष सेठ,परियोजना अधिकारी शहरी क्रमांक -3जबलपुर विकेश राय, परियोजना अधिकारी शहरी क्रमांक - 2प्रशांत पुराविया शामिल थे।

क्राइम ब्रांच और अधारताल पुलिस ने 8 जुलाई को खैरी स्थित गोलू सिडाना की डेयरी पर दबिश दी थी।यहां आंगनबाड़ी में बच्चों को बांटने वाला शासकीय अनाज गाय-भैंसों को खिलाया जा रहा था।डेयरी से लोडिंग ऑटो एमपी 20 एलए 9523 में भरकर 9 क्विंटल 80 किलो दलिया, चावल व आटा जब्त किए ये दलिया विजय नगर स्थित आंगनबाड़ी केंद्र से वहां लाया गया था।


ड्राइवर अभिषेक सेन ने बताया था कि वह माढ़ोताल निवासी रोशन पटेल के कहने पर विजय नगर स्थित आंगनबाड़ी केंद्र से खाद्यान्न की 50 बोरी लेकर गोलू सिडाना डेयरी पहुंचा था।अधारताल पुलिस ने मामले में गोलू सिडाना,अभिषेक सेन, अनिल ठाकुर व रोशन पटेल के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम का प्रकरण दर्ज किया है,गोलू सिडाना व रोशन पटेल की तलाश जारी है।