विचाराधीन बंदी की अस्पताल में हुई मौत परिजनों ने किया हंगामा कोरोना संक्रमित डेड बॉडी लेने की रखी मांग,पढ़े पूरी खबर.... - eaglenews24x7

Breaking

विचाराधीन बंदी की अस्पताल में हुई मौत परिजनों ने किया हंगामा कोरोना संक्रमित डेड बॉडी लेने की रखी मांग,पढ़े पूरी खबर....

विचाराधीन बंदी की अस्पताल में हुई मौत परिजनों ने किया हंगामा कोरोना संक्रमित डेड बॉडी लेने की रखी मांग....

रीवा के संजय गांधी अस्पताल में आज विचाराधीन बंदी की उपचार के दौरान मौत हो गई जिसके बाद अस्पताल प्रबंधन ने बंदी को कोरोना संक्रमित बता कर परिजनों को डेडबॉडी देने से इनकार कर दिया।


तब डेड बॉडी प्राप्त करने को लेकर परिजनों ने अस्पताल के मुख्य गेट पर चक्का जाम करते हुए हंगामा कर दिया तथा प्रशासन पर लापरवाही किए जाने के गंभीर आरोप लगाए।

रीवा जिले के रायपुर कर्चुलियान थाना क्षेत्र अंतर्गत गोरेगांव का रहने वाले मथुरा प्रसाद साकेत आपसी विवाद के चलते विचाराधीन कैदी के तौर पर केंद्रीय जेल रीवा में कैद था।जिसकी अचानक तबीयत खराब होने के चलते उसे संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर इलाज के दौरान आज उसकी मौत हो गई और डॉक्टरों के द्वारा विचाराधीन बंदी को कोरोना संक्रमित बताकर परिजनों को डेड बॉडी देने से इनकार कर दिया गया।


जिसके बाद परिजनों ने संजय गांधी अस्पताल के मुख्य द्वार पर खड़े होकर अस्पताल के गेट पर ताला लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया तथा डेड बॉडी लेने की मांग करने लगे।


परिजनों ने पुलिस और प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा है कि जेल के अंदर उनके साथ बर्बरता की गई है जिस को छुपाने के लिए प्रशासन ने मृतक को कोरोना संक्रमित बताकर डेड बॉडी देने से इनकार कर दिया है।

हालांकि मामले पर गंभीरता दिखाते हुए तुरंत ही मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अमले ने मृतक के परिजनों को शांत कराया तथा उन्हें कोविड प्रोटोकॉल के तहत जानकारी देते हुए संक्रमित मरीज के डेड बॉडी का अंतिम संस्कार किए जाने की बात करते हुए उन्हें पुनःघर के लिए वापस कर दिया।