लंबे वक्त तक बीमार रहे डोनाल्ड ट्रंप तो क्या होगा? चुनाव टलेगा या राष्ट्रपति बदलेगा? - eagle news

Breaking

लंबे वक्त तक बीमार रहे डोनाल्ड ट्रंप तो क्या होगा? चुनाव टलेगा या राष्ट्रपति बदलेगा?


अमेरिका, अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान होने में एक महीने से भी कम का वक्त बचा है. पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट के बाद अमेरिका और पूरी दुनिया को चौंकानी वाली खबर सामने आई. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप कोरोना वायरस से पीड़ित हो गए. दोनों ही अब अस्पताल में हैं और व्हाइट हाउस के डॉक्टर्स उनपर नज़र बनाए हुए हैं. चुनाव से ठीक पहले इस तरह की परिस्थिति पैदा होने से कई तरह के सवाल खड़े कर दिए हैं. जो अमेरिका के साथ-साथ दुनिया की मीडिया की ओर से पूछे जा रहे हैं.

क्या हैं डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया के ताजा हालात?
डोनाल्ड ट्रंप ने सबसे पहले अपनी एक सहयोगी के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी, कुछ ही देर बाद उन्होंने खुद के और फर्स्ट लेडी के कोरोना पॉजिटिव होने के बारे में बताया. दरअसल, कुछ ही वक्त पहले व्हाइट हाउस के गार्डन में एक कार्यक्रम हुआ था, जहां ये सभी मौजूद थे. रविवार तक व्हाइट हाउस में 20 से अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं. 

डोनाल्ड ट्रंप को शुरुआत में व्हाइट हाउस में ही इलाज दिया गया, लेकिन जब उनका बुखार नहीं उतरा तो उन्हें Walter Reed National Military Medical Center ले जाया गया. ये अमेरिका का सबसे बड़ा आर्मी अस्पताल है, अभी डोनाल्ड ट्रंप का यहां पर ही इलाज चल रहा है और वो कुछ काम भी करते नज़र आ रहे हैं.

क्या टल जाएगा अमेरिकी चुनाव?
डोनाल्ड ट्रंप के इस तरह अचानक बीमारी की चपेट में आने से कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं. सबसे बड़ा सवाल है कि क्या अमेरिकी चुनाव टल जाएगा? क्योंकि अब मतदान को 30 दिन से भी कम बचे हैं. अमेरिकी मीडिया में छपी रिपोर्ट्स बताती हैं कि अभी पहला असर पूरे कैंपेन पर हुआ है, जो ना सिर्फ रिपब्लिकन बल्कि डेमोक्रेट्स के लिए भी मुश्किल भरा है.

डोनाल्ड ट्रंप ने अपना पूरा कैंपेन अभी रद्द कर दिया है और उपराष्ट्रपति माइक पेंस जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट हो गई है, इसी हफ्ते वाइस प्रेसिडेंशियल डिबेट होगी. लेकिन दूसरी प्रेसिडेंशियल डिबेट 15 अक्टूबर को होगी, ऐसे में कम ही चांस हैं कि डोनाल्ड ट्रंप इसमें शामिल हों. हालांकि, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वो शामिल हो सकते हैं लेकिन वो ट्रंप की तबीयत पर निर्भर करेगा. 

अगर चुनाव की तारीख की बात करें तो ये अभी नहीं टलेगा. उसका कारण ये है कि अभी तक लाखों अमेरिकी अपना वोट डाल चुके हैं, यानी चुनाव शुरू हो चुका है. कोरोना संकट के कारण इस बार मेल-इन वोट ज्यादा पड़ रहे हैं ऐसे में वोटिंग शुरू हो गई है.