पराली जलाने से दिल्ली में भयावक हो सकता हैं वायु प्रदूषण - eagle news

Breaking

पराली जलाने से दिल्ली में भयावक हो सकता हैं वायु प्रदूषण


नई दिल्ली । राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार सुबह वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई, लेकिन पंजाब, हरियाणा और अन्य आसपास के राज्यों में पराली जलाने की घटनाओं में वृद्धि से आने वाले दिनों में वायु गुणवत्ता और गिरावट की आशंका जाहिर की है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने कहा कि वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) बुधवार और बृहस्पतिवार को भी ‘‘मध्यम’’ श्रेणी में बना रहेगा और उसके बाद इसमें गिरावट शुरू होगी। शहर में मंगलवार सुबह 10:30 बजे एक्यूआई 177 दर्ज किया गया, जो ‘‘मध्यम’’ श्रेणी में आता है। सोमवार को 24 घंटे का औसत एक्यूआई 179 दर्ज किया गया था। उल्लेखनीय है कि 0 से 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा, 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर माना जाता है। सफर ने कहा, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के आसपास के क्षेत्रों में खेतों में पराली जलाने की घटना में वृद्धि देखी गई है। वायु की दिशा प्रदूषकों के प्रसार के लिए अनुकूल है और आने वाले दिनों में दिल्ली पर ये अपना असर दिखाना शुरू करेगा। इसके अलावा, दिल्ली में न्यूनतम तापमान में भी गिरावट देखी गई है।