प्रदेश में 16 सितम्बर से जनकल्याण पखवाड़ा प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्म दिवस पर - eagle news

Breaking

प्रदेश में 16 सितम्बर से जनकल्याण पखवाड़ा प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्म दिवस पर


आँगनवाड़ियों में होगा दुग्ध वितरण : मुख्यमंत्री श्री चौहान
पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस 25 सितम्बर तक जनकल्याण कार्यक्रमों की श्रृंखला 

जबलपुर,  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में 16 सितम्बर से जनकल्याण के कार्यक्रमों की श्रृंखला प्रारंभ हो रही है। यह श्रृंखला पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस 25 सितम्बर तक निरंतर चलेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 16 सितम्बर को मध्यप्रदेश के करीब 37 लाख ऐसे गरीब भाई-बहनों को राशन का वितरण शुरु किया जा रहा है, जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री श्री मोदी का जन्म दिवस है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने सदैव गरीब वर्ग के कल्याण को प्राथमिकता दी है। इस नाते उनके जन्म दिवस पर प्रदेश के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में बच्चों को पोषण आहार के साथ ही दूध का वितरण भी प्रारंभ किया जा रहा है।


जनकल्याण कार्यक्रम

16 सितम्बर- पात्रता पर्ची एवं खाद्यन्न वितरण।
17 सितम्बर- आँगनवाड़ी केन्द्रों में दुग्ध वितरण आरंभ।
18 सितम्बर- फसल बीमा योजना के 4600 करोड़ रूपये किसानों के खाते में अंतरण।
19 सितम्बर- वनाधिकार पट्टों का वितरण तथा पथ विक्रेताओं ऋण राशि वितरण।
20 सितम्बर- संबल योजना के हितग्राहियों के लिए कार्यक्रम।
21 सितम्बर- स्व-सहायता समूहों के खातों में 150 करोड़ रुपये जमा करना।
22 सितम्बर- मेधावी विद्यार्थियों को लेपटॉप वितरण।
23 सितम्बर- प्रधानमंत्री किसान योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड।
25 सितम्बर- बिजली बिलों में रियायत।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 18 सितम्बर को प्रदेश के 20 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा योजना की राशि 4600 करोड़ रूपये खातों में अंतरित की जायेगी। कोरोना के संकट और हाल ही में हुई अतिवर्षा की परिस्थितियों में किसानों को मिल रही यह राशि उनके लिए राहतकारी होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 19 सितम्बर को वनाधिकार के पट्टे पात्र आदिवासी भाईयों-बहनों को प्रदान किए जाएंगे। इसके साथ ग्रामीण क्षेत्र में रेहड़ी वाले, फल बेचने वाले, खिलौने बेचने वाले और अन्य स्ट्रीट वेंडर्स को 10 हजार रुपये की ब्याज मुक्त ऋण राशि का वितरण किया जाएगा। इसी क्रम में 20 सितम्बर को संबल योजना के हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्य भी किया जाएगा। प्रदेश में 21 सितम्बर को स्व-सहायता समूहों को मजबूत बनाने का नया अभियान शुरु हो रहा है। इसके अंतर्गत अलग-अलग स्व-सहायता समूहों के खाते में 150 करोड़ रुपये की राशि जमा कराई जाएगी। मेधावी विद्यार्थियों को लेपटॉप के लिए राशि वितरण का कार्य 22 सितम्बर को किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 23 सितम्बर को प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान योजना के हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। इसके अलावा किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज देने के लिए सहकारी बैंकों को 800 करोड़ रुपये की राशि दी जा रही है। एकात्म मानववाद के प्रणेता एवं समाज में आर्थिक रूप से सबसे कमजोर तबके के कल्याण का विचार देने वाले पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितम्बर के अवसर पर राज्य सरकार