फॉर्मेसिस्ट के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश।जानें कैसे.... - eaglenews24x7

Breaking


फॉर्मेसिस्ट के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश।जानें कैसे....

चिकित्सक ओ.पी.डी. पर्चों पर सील के साथ हस्ताक्षर भी करेंगे।



बी.डी.,ओ.डी.की जगह दवा के साथ हिन्दी में लिखा जायेगा लेने का वक्त।



चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री सारंग ने हमीदिया अस्पताल का किया निरीक्षण।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने आज गांधी चिकित्सा महाविद्यालय से संबद्ध हमीदिया चिकित्सालय की ओ.पी.डी., पंजीयन,ब्लड बैंक,दवा वितरण केन्द्र आदि विभिन्न इकाइयों का निरीक्षण कर सम्पूर्ण व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश दिये।उन्होंने कहा कि चिकित्सालय परिसर में एक पाथ-वे बनाकर सारे विभाग जोड़े ताकि मरीज को कक्ष ढूढंने में परेशानी न हो।



मंत्री श्री सारंग ने कहा कि प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अस्पताल पर्ची में संबंधित डॉक्टर के हस्ताक्षर, सील के साथ मोबाइल नम्बर भी लगायें,ताकि संबंधित डॉक्टर का नाम स्पष्ट रहे।उन्होंने दवा वितरण केन्द्र में निर्धारित 268 दवाओं की निरंतर उपलब्धि सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।सारंग ने कहा कि आम मरीज को ओ.डी. एवं बी.डी. समझ में नहीं आता है।इसके स्थान पर सुबह,दोपहर,शाम जैसे भी दवा लेनी हो हिन्दी में लिखें।उन्होंने कहा यह व्यवस्था प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अस्पतालों में लागू होगी।डीन डॉ.अरूणा कुमार,अधीक्षक डॉ.आई.डी.चौरसिया और अस्पताल प्रबंधक डॉ.नितिन अग्रवाल मौजूद थे।



फॉर्मेसिस्ट के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश।



चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने दवा वितरण केन्द्र में जाकर दवाइयों की उपलब्धता का मुआयना किया। निर्धारित संख्या से कम पाये जाने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल वर्तमान में प्रभारी फॉर्मेसिस्ट के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिये। श्री सारंग ने अत्यावश्यक दवाइयों की उपलब्धता की जानकारी लेते हुए कहा कि इनकी कमी बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि अस्पताल प्रबंधन दवा वितरण प्रणाली का प्रस्तुतिकरण दे।



संबंधित विभागाध्यक्ष सफाई के प्रति होंगे जवाबदेह।



सारंग ने हमीदिया अस्पताल में कुछ जगहों पर सफाई से सन्तुष्ट न होने पर संबंधित एजेन्सी का एक माह का पेमेन्ट रोकने के निर्देश दिये।उन्होंने कहा कि सभी विभागाध्यक्ष अपने-अपने विभाग में सफाई सुनिश्चित करवायेंगे।उन्होंने अस्पताल में फालतू सामानों को तुरंत हटाने के निर्देश दिये। मंत्री सारंग ने मरीजों की सुविधा के लिये प्रत्येक स्थल पर उचित साइनेज लगाने और पुराने साइनेज को तुरंत बदलने के निर्देश दिये।उन्होंने ब्लड बैंक के बाहर पार्क की गई मोटर साइकिल पर नाराजगी व्यक्त की।



फायर सिस्टम हमेशा अलर्ट रखें।



सारंग ने अस्पताल के भवनों में सभी अग्निशमन यंत्रों को हमेशा अद्यतन रखने के निर्देश दिये। उन्होंने सिस्टम के लिये जरूरी टंकी में पानी की उपलब्धता का मुआयना करते हुए उसे हमेशा वांछित स्तर तक भरा रखने को कहा। उन्होंने फायर अलर्ट सिस्टम का मॉक ट्रॉयल करने को भी कहा। श्री सारंग ने पानी के रिसाव से उत्पन्न गंदगी पर अप्रसन्नता जाहिर कर इसे अविलंब दूर करने को कहा।



प्रदेश का सबसे बड़ा अस्पताल।



मंत्री सारंग ने कहा कि हमीदिया अस्पताल प्रदेश का सबसे बड़ा शासकीय अस्पताल है,जहाँ रोज 3 हजार के लगभग मरीजों की आमद होती है।मरीजों को असुविधा न हो, इसके लिये सम्पूर्ण प्रक्रिया का सरलीकरण किया जायेगा।उन्होंने संबंधित अधिकारियों को कहा कि व्यवस्थाओं को और चुस्त-दुरुस्त बनायें,ताकि कोई मरीज परेशान न हो।सारे पर्चे एक ही जगह बनें।उन्होंने ओपीडी में भोपाल और आसपास के जिलों से आये मरीजों और उनके परिजनों से बात भी की। सारंग ने रजिस्ट्रेशन बिल्डिंग का विस्तार करने, पेयजल और वॉश-रूम सुविधा को बढ़ाने के निर्देश दिये।

eaglenews24x7

समस्या आपकी संघर्ष हमारा

नोट:eaglenews24x7न्यूज एवं विज्ञापन के लिये जिले एवं तहसील स्तर पर संवाददाता और ब्यूरो नियुक्त करना है।9479681930,9752009923