खाद्य पदार्थों में मिलावट पर कार्यवाही करें : कलेक्टर श्री शर्मा लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक संपन्न - eaglenews24x7

Breaking

खाद्य पदार्थों में मिलावट पर कार्यवाही करें : कलेक्टर श्री शर्मा लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक संपन्न


जबलपुर, कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा की अध्यक्षता में आज लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक संपन्न हुई।
इस दौरान अपर कलेक्टर सर्वश्री संदीप जी. आर., हर्ष दीक्षित, बीपी द्विवेदी, नगर निगम आयुक्त अनूप सिंह व एसडीएम, तहसीलदार सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन सहित समस्त लंबित प्रकरण संतुष्टि के साथ समय सीमा में निराकृत करें। सीएम हेल्पलाइन में लंबित प्रकरणों को फोकस करते हुए उनका निराकरण प्राथमिकता से करें। कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि नायब तहसीलदार व रीडर के पास यदि 100 दिन की ऊपर के लंबित प्रकरण है और समय पर निराकरण नहीं होते हैं, तो उन्हें एससीएन जारी करें। उन्होंने धान उपार्जन को लेकर विस्तृत दिशा निर्देश देते हुए कहा कि धान पंजीयन का सत्यापन शीघ्रता से करें। उपार्जन सही हो, सोसायटिओं में फर्जी खरीदी ना हो ,इस बात पर नजर रखें। उन्होंने तहसीलदार व संबंधित अधिकारियों से कहा कि यदि कहीं फर्जी धान खरीदी का प्रकरण सामने आया तो उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जावेगी। उन्होंने तहसीलदारों से कहा कि रकबा सत्यापन का कार्य दो-तीन दिन में पूरा कर लें। यदि कोई धान व्यापारी सिकमी का फर्जी रजिस्ट्रेशन कराए हैं तो उसके एफआईआर दर्ज करें। फील्ड में चुस्त-दुरुस्त सिस्टम होना चाहिए। कलेक्टर श्री शर्मा ने तहसीलदारों से कहा कि वेयरहाउस के अधिकारियों के साथ मिलकर वेयरहाउस में पुराना धान कितना रखा हुआ है, चेक करें और धान स्टॉक की जानकारी रखें। रजिस्ट्रेशन में जो असली पंजीयन निरस्त हुए हैं उनके कारणों की जांच भी करें और इसमें यदि कोई दोषी पाया जाता है तो उसके विरुद्ध कार्यवाही करें। कलेक्टर श्री शर्मा ने स्पष्ट रूप से सभी संबंधित अधिकारियों से कहा कि उपार्जन के लिए जो धान ट्रक से लाया जायेगा, उसकी जानकारी संबंधित क्षेत्र के एसडीएम व तहसीलदार को पहले से ही होनी चाहिए। उन्होंने उपार्जन से संबंधित व्यवस्थाओं की जानकारी लेते हुए बारदानें की उपलब्धता, धागा, सिलाई मशीन ,कांटा आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश के साथ उपार्जन की संपूर्ण व्यवस्था बेहतर करने के लिए कहा।

बैठक में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि व मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के संबंध में भी समीक्षा की गई और कहा कि किसान हितकारी योजनाओं में जहां कहीं परेशानी आती है उसे सुलझाएं। किसानों के केवाईसी खाता, आधार कलेक्ट करें और विसंगतियों को दूर करें।
कलेक्टर शर्मा ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि त्यौहारों के मद्देनजर खाद्य पदार्थों में मिलावट पर कार्यवाही करें। उन्होंने विशेष रूप से कहा कि मिलावटखोरी पर छापामार कार्यवाही शक्ति से करे।उन्होंने कहा कि फटाखा दुकान सुरक्षित जगह पर हो, शासन की गाइडलाइन के अनुसार हो, उस क्षेत्र में ज्वलनशील पदार्थ को ले जाना प्रतिबंधित करें । उस क्षेत्र में फायर ब्रिगेड व पानी के टैंकर आदि सुनिश्चित भी करें और कोई विदेशी फटाखा विक्रय ना हो इस पर ध्यान दें ।
बैठक के दौरान कोरोना के रोकथाम व बचाव पर आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि त्यौहार व ठंड के कारण कई जगह कोरोना का दूसरा चरण शुरू हो चुका है। अतः इसमें विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है वृद्ध जन सुरक्षा अभियान को और प्रभावी करने के निर्देश के साथ ही कहा कि जिस- जिस क्षेत्र में पहले कोरोना के मरीज मिले थे उन क्षेत्रों पर विशेष नजर रखें, क्रिटिकल केस की पहचान करें,कोमोर्बिटी को होम आइसोलेशन में ना रखें और शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन बनाएं। मार्केट एसोसिएशन के साथ बैठक करने के भी निर्देश दिए और कहा कि लोगों को मास्क लगाने, सैनिटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग के लिए प्रेरित करें। अभी करोना समाप्त नहीं हुआ है अतः लोग भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचें। कलेक्टर श्री शर्मा ने एसडीएम को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि जो कोरोना से बचाव की गाइडलाइन का पालन नहीं करते हैं उनके विरुद्ध सख्ती से कार्यवाही करें और दुकानों में बिना मास्क के यदि लोग दिखते हैं और भीड़ होती है तो उस दुकान को तत्काल सील कर दें।